‘शिखर धवन को नहीं मिलता क्रेडिट जिसके वह हकदार’, रवि शास्त्री का सबसे बड़ा बयान

[ad_1]

Shikhar Dhawan, Ravi Shastri- India TV Hindi

Image Source : TWITTER
Shikhar Dhawan, Ravi Shastri

भारतीय क्रिकेट टीम के लिए साल 2015 वर्ल्ड कप और फिर 2019 वर्ल्ड कप में चोट लगने से पहले शिखर धवन ने अहम भूमिका निभाई थी। साल 2013 की चैंपियंस ट्रॉफी में भी टीम इंडिया को चैंपियन बनाने में धवन का बड़ा योगदान रहा था। पर अब यह खिलाड़ी शायद टीम इंडिया के भविष्य की प्लानिंग में नहीं है। यही कारण है कि अब ना उन्हें एशिया कप व वर्ल्ड कप से पहले एक भी सीरीज में मौका मिला। ना ही उन्हें एशियन गेम्स व आयरलैंड सीरीज के लिए भारत की बी टीम में जगह मिली। इसी बीच टीम इंडिया के पूर्व हेड कोच रवि शास्त्री ने इस धाकड़ ओपनर को लेकर बड़ा बयान दिया है।

रवि शास्त्री ने स्टार स्पोर्ट्स से बात करते हुए जहां टीम इंडिया की वर्ल्ड कप व एशिया कप की प्लानिंग पर चर्चा की। वहीं उन्होंने केएल राहुल व श्रेयस अय्यर की इंजरी के बाद वापसी, तिलक वर्मा व ईशान किशन की तारीफ समेत कई बयान दिए। पर उनका सबसे बड़ा बयान आया शिखर धवन को लेकर। आपको बता दें कि लंबे समय तक शास्त्री जब हेड कोच थे तो शिखर धवन ने टीम इंडिया का साथ निभाया। पर राहुल द्रविड़ के कार्यकाल में शायद इस स्टार खिलाड़ी के करियर पर अब विराम लग गया है।

‘धवन को नहीं मिलता क्रेडिट…’

रवि शास्त्री ने स्टार स्पोर्ट्स पर एक चर्चा में साफतौर पर कहा कि शिखर धवन को वो सम्मान नहीं मिलता जिसके शायद वह हकदार रहे हैं। उन्होंने कहा, लोगों ने कभी शिखर धवन को उतना क्रेडिट नहीं दिया जो उन्हें मिलना चाहिए था। वह एक शानदार खिलाड़ी हैं। जब साल 2019 में हम वर्ल्ड कप सेमीफाइनल हारे थे तो टीम ने उन्हें बहुत मिस किया था। बता दें कि उस वर्ल्ड कप में धवन शुरुआती फेज के बाद चोटिल हो गए थे और उन्हें बाहर होना पड़ा था। शास्त्री ने आगे कहा कि, टॉप ऑर्डर में एक बाएं हाथ के बल्लेबाज के होने से आपको मदद मिलती है। जब गेंद स्विंग होती है तो दाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए वो अंदर आती है लेकिन बाएं हाथ के बल्लेबाज के लिए बाहर जाती है और रन बनाने में आसानी रहती है। 

शिखर धवन का वर्ल्ड कप में शानदार रिकॉर्ड

शिखर धवन के रिकॉर्ड की बात करें तो वर्ल्ड कप में उनका शानदार रिकॉर्ड रहा है। उन्होंने 2015 और 2019 दो वर्ल्ड कप में हिस्सा लिया। कुल 10 मैचों की 10 पारियों में उनके नाम 537 रन दर्ज हैं। उनका बेस्ट स्कोर 137 रनों का है। इस टूर्नामेंट में धवन ने कुल 3 शतक और एक अर्धशतक लगाया है। इस टूर्नामेंट में उनका स्ट्राइक रेट करीब 94 का और औसत 53.7 का रहा है। वह दिसंबर 2022 में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे सीरीज के बाद से टीम इंडिया से बाहर हैं। धवन ने वनडे क्रिकेट में 17 शतक और 39 अर्धशतक भी लगाए हैं। उन्होंने भारत के लिए 167 वनडे मैचों की 164 पारियों में 6793 रन बनाए हैं। वहीं 34 टेस्ट मैचों में उनके नाम 2315 रन और 68 टी20 इंटरनेशनल में 1759 रन दर्ज हैं। 

यह भी पढ़ें:-

Latest Cricket News

India TV पर हिंदी में ब्रेकिंग न्यूज़ Hindi News देश-विदेश की ताजा खबर, लाइव न्यूज अपडेट और स्‍पेशल स्‍टोरी पढ़ें और अपने आप को रखें अप-टू-डेट। Cricket News in Hindi के लिए क्लिक करें खेल सेक्‍शन



[ad_2]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*