बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप का भारत ने पहली बार जीता खिताब, प्लेयर्स ने रच दिया इतिहास – India TV Hindi

[ad_1]

Indian women Badminton Team- India TV Hindi

Image Source : BAI TWITTER
Indian women Badminton Team

बैडमिंटन एशिया टीम चैंपियनशिप का खिताब भारत महिला बैडमिंटन टीम ने थाईलैंड को हराकर जीत लिया है। भारतीय प्लेयर्स ने कमाल का खेल दिखाया। थाईलैंड हालांकि अपनी दो चोटी की खिलाड़ियों विश्व में नंबर 13 रतचानोक इंतानोन और विश्व में नंबर 16 पोर्नपावी चोचुवोंग के बिना इस टूर्नामेंट में उतरा था जिसका भारत को फायदा मिला। भारत ने फाइनल में थाईलैंड को 3-2 से हराया। भारतीय महिला बैडमिंटन टीम पहली बार इस टूर्नामेंट का फाइनल खेल रही थी और भारत ने पहली बार में ही खिताब जीत लिया। पीवी सिंधु की अगुवाई वाली भारतीय महिला टीम ने तमाम विपरीत परिस्थितियों के बावजूद अपना अच्छा प्रदर्शन जारी रखा तथा दो बार के कांस्य पदक विजेता थाईलैंड को हराया। 

पीवी सिंधु ने दिलाई मजबूत शुरुआत

चोटिल होने के कारण लगभग चार महीने तक कोर्ट से बाहर रहने वाली दो बार की ओलंपिक पदक विजेता पीवी सिंधु ने आक्रामक खेल का नजारा पेश किया और पहले सिंगल्स में दुनिया की 17वें नंबर की खिलाड़ी सुपनिडा काटेथोंग को 21-12, 21-12 से हरा कर भारत को 1-0 से बढ़त दिलाई। त्रीसा जॉली और गायत्री गोपीचंद की विश्व में 23वें नंबर की जोड़ी ने भी अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा तथा जोंगकोलफान कितिथाराकुल और राविंडा प्रा जोंगजई की विश्व में दसवें नंबर की जोड़ी को 21-16, 18-21, 21-16 से पराजित करके भारत को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया। 

इन प्लेयर्स को मिली हार

जापान की पूर्व विश्व चैंपियन नोजोमी ओकुहारा के खिलाफ शानदार जीत के बाद अश्मिता चालिहा से काफी उम्मीदें लगाई जा रही थी लेकिन वह दूसरे सिंगल्स में विश्व की 18वें नंबर की खिलाड़ी बुसानन ओंगबामरुंगफान से 11-21 14-21 हार गई। युवा श्रुति मिश्रा और प्रिया कोन्जेंगबाम को बेन्यापा ऐम्सार्ड और नुनटाकर्न ऐम्सार्ड की दुनिया की 13वें नंबर की जोड़ी से 11-21, 9-21 से हार का सामना करना पड़ा, जिससे मुकाबला 2-2 से बराबर हो गया। 

अनमोल खरब ने किया कमाल

अब भारत को जीत दिलाने का दारोमदार अनमोल खरब पर टिका था जिन्होंने विश्व में 45वें नंबर की खिलाड़ी पोर्नपिचा चोइकीवोंग को 21-14 21-9 से हराकर भारत को स्वर्ण पदक दिला दिया। अनमोल ने कहा कि 17 साल की उम्र में यह बड़ी उपलब्धि है। अब मुझे और कड़ी मेहनत करनी है। उन्होंने यह भी कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि हमने स्वर्ण पदक जीता क्योंकि यह पहली बार है जब भारत बैडमिंटन एशिया टीम चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीत रहा है। यह बड़ी चीज है क्योंकि यहां इतिहास रचा गया है। 

(Input: PTI)

यह भी पढ़ें: 

टेस्ट मैच हारने में ENG ने ऑस्ट्रेलिया को छोड़ा पीछे, भारत के सामने फिसड्डी साबित हुई अंग्रेजों की टीम

मैच जीतने के बाद कप्तान रोहित शर्मा ने खोला दिल, इन खिलाड़ियों की कर दी तारीफ



[ad_2]

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*